राकेश पाणिग्राही 

अकेला ब्यूरो ऑफ़ इन्वेस्टिगेशन (एबीआई) की न्यूज़ सच निकली। अन्न व औषधि प्रशासन (एफडीए) ने छापा मारा तो पाया कि गोल्डन केमिस्ट का फार्मासिस्ट कभी दुकान पर आता ही नहीं। दुकान के ही कर्मचारी फार्मासिस्ट का हस्ताक्षर करके दवा बेच रहे थे। एफडीए ने दुकान को स्टॉप सेल (बिक्री बंद) का आदेश दिया है।

गोल्डन केमिस्ट ठक्कर पैराडाइज़, माऊली चौक, बदलापुर (पूर्व), ठाणे में है। इसके मालिक बाबूलाल चौधरी हैं। मुंबई के समाज सेवक डॉ. वेद तिवारी ने गोल्डन केमिस्ट में अवैध तरीके से हो रहे व्यवहार की एफडीए से शिकायत की थी। उसी शिकायत के आधार पर एबीआई ने खबर प्रकाशित की थी। खबर का असर हुआ। एफडीए कमिश्नर परिमल सिंह के संज्ञान में बात आते ही 3 अक्टूबर 2021 को इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के अधिकारियों ने गोल्डन केमिस्ट पर छापा मार दिया। फार्मासिस्ट गणेश कोलेकर नदारद मिला। अधिक पूछताछ में दुकान के कर्मचारियों ने बताया कि गणेश कोलेकर कभी आता ही नहीं। वह अल्केम लैबोरेटरीज लि. कंपनी में बतौर साइंटिस्ट काम करता है। एफडीए ने गणेश कोलेकर का भी बयान दर्ज किया। कोलेकर ने भी स्वीकार किया कि वह फरवरी 2021 से अल्केम लैबोरेटरीज लि. में फुल टाइम काम करता है। गोल्डन केमिस्ट शॉप पर कभी नहीं जाता। बावजूद इसके गोल्डन केमिस्ट शेडयूल्ड़ एच-1, विशेषकर स्टरॉएड्स, सेडाटिव्स और एंटी-बायोटिक्स दवाएं बिंदास बेच रहा था। इसकी वजह बाबूलाल चौधरी का प्रभारी सहायक आयुक्त (ज़ोन-6) प्रवीण मुन्दड़ा से मधुर सम्बन्ध। बाबूलाल चौधरी प्रवीण मुन्दड़ा को प्रति माह ‘विटामिन-एम’ देता रहता था और एफडीए कानून को ताक पर रखकर धंधा कर रहा था। गोल्डन केमिस्ट मामले में प्रवीण मुन्दड़ा का अपना तर्क है लेकिन यह भी सच है कि वर्तमान में मुन्दड़ा एफडीए का सबसे भ्रष्ट अधिकारी है।

एफडीए की गोल्डन केमिस्ट शॉप पर त्वरित कार्रवाई से प्रसन्न डॉ. वेद तिवारी कहते हैं कि, “बाबूलाल चौधरी और गणेश कोलेकर पर ड्रग्स एन्ड कॉस्मेटिक्स एक्ट-1940 और आईपीसी की धारा बेईमानी और धोखाधड़ी के तहत कार्रवाई की जा सकती है। एफडीए प्रशासन फार्मेसी कॉउंसिल को भी पत्र लिखकर इस मसले से अवगत करा सकता है। जिससे फार्मेसी पंजीयन के गैर इस्तेमाल पर रोक लग सके।”

एफडीए कमिश्नर (आईएएस) परिमल सिंह की लोग तारीफ़ कर रहे हैं। परिमल सिंह बेहद ईमानदार, सख्त मिज़ाज़ और कम्प्रोमाइज न करने वाले अधिकारी माने जाते हैं। एबीआई परिमल सिंह को धन्यवाद ज्ञापित करता है।

4.1 8 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments