ठाणे पुलिस का कुबेर: 110 करोड़ रुपये कमाकर रिटायर हो रहे हैं ठाणे पुलिस के एसीपी दिनकर मोहिते, बैचमेट ने की एसीबी में शिकायत

1

अकेला

ठाणे पुलिस की क्राइम ब्रांच में कार्यरत सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) (Assistant Commissioner Of police) दिनकर मोहिते (Dinkar Mohite) इसी सप्ताह 30 जून 2022 को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। सेवानिवृत्ति के दिन उनके सम्मान में कसीदे पढ़े जायेंगे कि वे कितने इमानदार, डैशिंग, जान की परवाह किये बिना खतरनाक-खतरनाक गैंगस्टर्स को पकड़नेवाले, गूढ़ से गूढ़ केस को सॉल्व कर देने वाले, मेहनती और मिलनसार अधिकारी रहे हैं। यही सब सुनाने के लिए उन्होंने अपने पैतृक गांव से 20 गाड़ियों में भर-भर कर रिश्तेदारों, दोस्तों और गांववालों को बुलाया है। लेकिन उनके एक साथी ने इसमें खलल डाल दिया है। साथी ने भ्रटाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) को पत्र लिखकर बताया है कि दिनकर मोहिते 110 करोड़ रुपये (Dinkar Mohite earns Rs 110 crore) की काली कमाई करके रिटायर हो रहे हैं।
(Thane Police Department’s Kuber – After earning 110 Crore Rupees, ACP Dinkar Mohite to retire; Batchmate files a complaint to ACB)

जिस अधिकारी ने एसीबी (ACB) में शिकायत की है प्रोटोकॉल का हवाला देकर अपना नाम नहीं बताया है। मुंबई पुलिस में कार्यरत और खुद को दिनकर मोहिते का बैचमेट बताया है। अधिकारी ने बताया है कि वह भी जल्द रिटायर होंगे और फिर सामने आकर एसीबी को डीटेल्स में सबूत देंगे। उन्होंने 22 जून 2022 को एसीबी को लिखा पत्र एबीआई (ABI- abinet.org) को भी भेजा है।

पत्र के अनुसार दिनकर मोहिते ने निम्नलिखित सम्पत्तियाँ बनाई हैं…..

1- ठाणे में एक फ्लैट, मुंबई में तीन फ्लैट्स, पुणे में दो फ्लैट्स, सोलापुर में दो फ्लैट्स और कोल्हापुर में एक आलीशान रो हाउस। इन सबकी कीमत लगभग 45 करोड़ रुपये है।
2- पुणे जिले के इंदापुर में दो करोड़ रुपये के दो आलीशान मकान।
3- पंढरपुर में 55 एकड़ प्लॉट। इसे हाल ही में खरीदा है।
4- दिनकर मोहिते लग्जरी गाड़ियों के भी शौक़ीन हैं। उनके पास छः फोर व्हीलर्स हैं। इनमें एक मर्सिडीज़, एक स्कार्पियो, एक मारुति ब्रेज़ा, एक सैंट्रो, एक बीएमडब्ल्यू और एक स्विफ्ट कार शामिल हैं। इनमें से मर्सिडीज़ की कीमत तकरीबन 50 लाख है और उसे इन्होंने पिछले महीने ही खरीदा है।
5- पुलिस अधिकारी का कहना है कि उनकी मालूमात के अनुसार दिनकर मोहिते के पास कम से कम पांच करोड़ रुपये नकद हैं। इनमें से कुछ उन्होंने रिश्तेदारों के पास और कुछ दोस्तों के पास रखे हैं।

उपरोक्त लिखित बहुत सारी सम्पत्तियाँ उन्होंने रिश्तेदारों के नाम खरीदी हैं। बेनामी हैं।

पत्र के अनुसार दिनकर मोहिते तेलगी (स्टैम्प पेपर) घोटाले में जांच अधिकारियों की टीम में थे। उस दौरान उन्होंने काफी काली कमाई की थी। ख़्वाजा यूनुस हत्याकांड मामले में भी सचिन वाझे के साथ थे।

सेवानिवृत्ति के बाद दिनकर मोहिते खुद की सिक्युरिटी कंपनी खोलने वाले हैं और कोई पॉलिटिकल पार्टी ज्वाइन करने वाले हैं। सर्विस में रहते उन पर भ्रष्टाचार के कई आरोप लगे लेकिन राजनीतिक पहुँच की वजह से हर बार बच गए। एक वजह यह भी है कि करोड़ों की कमाई करके भी दिनकर मोहिते सब पचा गए। डकार भी नहीं ली।

1991-92 बैच के अधिकारी दिनकर मोहिते 33 साल बाद पुलिस विभाग से रिटायर हो रहे हैं। सवा लाख रुपये वेतन पाने वाले दिनकर मोहिते ने 110 करोड़ रुपये की संपत्ति बनाई है। डिपार्टमेंट में उन्हें लोग ‘ठाणे पुलिस का कुबेर’ कहते हैं। उनके बैचमेट ने उन पर कार्रवाई की मांग की है।

3.8 27 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Santos
Santos
1 month ago

Wooo good amount earned by Acp . Don’t know how system will clean