ओमी कालानी

अकेला 

टीओके बोले तो टीम ऑफ़ क्रिमिनल्स। अब टीम ऑफ़ क्रिमिनल्स (टीओके) के दो पदाधिकारियों के खिलाफ 16 साल की लड़की से बलात्कार (पोक्सो) की एफआईआर दर्ज हुई है। दोनों ‘महानुभाव’ शहर से फरार हैं।

6 अगस्त 2021 को उल्हासनगर-1 पुलिस स्टेशन में पंकज सुरेशलाल त्रिलोकानी और रोशन महेश माखीजा के खिलाफ भादंसं की धारा 376, 375 और बाल यौन अपराध संरक्षण कानून (पोक्सो) की धारा 3 (ब) और 8 के तहत एफआईआर (नंबर- 279/2021) दर्ज हुई है। एफआईआर की कॉपी एबीआई के पास है।

पंकज त्रिलोकानी

एफआईआर के अनुसार पीड़ित लड़की की उम्र 16 साल है और उसने ८वीं कक्षा तक पढ़ाई की है। उसके पिता पेशे से रिक्शा चालक हैं और टीओके के कार्यकर्ता हैं। इस बाबत पंकज त्रिलोकानी और रोशन माखीजा उसे पहचानते हैं। 14 मई 2021 की शाम 6 बजे त्रिलोकानी और माखीजा लड़की के घर गए। लड़की के पिता को दोनों ने बताया कि टीओके पार्टी का एक कार्यकर्ता यहां कुछ काम से आ रहा है। त्रिलोकानी ने उसे 2,000 रुपये देते हुए कहा कि तुम उसके लिए नाश्ता लेकर आओ। और जो रुपये बच जायेंगे उसे तुम रख लेना। लड़की का पिता जैसे ही घर से बाहर निकला रोशन माखीजा ने दरवाजा बंद कर दिया। लड़की उस समय बर्तन धो रही थी। रोशन माखीजा ने पीछे से लड़की को अपनी बांहों में भर लिया। उसके स्तन दबाये। उसे चूमने की कोशिश की तो लड़की ने चिल्लाना शुरू किया तो पंकज त्रिलोकानी ने उसका मुंह दबा दिया। रोशन माखीजा ने लड़की के लेगीज में हाथ डालकर उसके गुप्तांग में भी ऊँगली दाल दी।

उसी वक्त किसी ने दरवाजा खटखटा दिया। पंकज त्रिलोकानी ने दरवाजा खोला तो प्लास्टिक की थैली में कुछ सामान लिए एक युवक आया था। सामान लेकर दोनों वहां से चले गए। थोड़ी देर में लड़की के पिता आ गए तो लड़की ने उन्हें सारी बातें बता दीं। चूँकि पंकज त्रिलोकानी और रोशन माखीजा रईस हैं, टीओके के पदाधिकारी हैं और उन पर टीओके अध्यक्ष ओमी कालानी का हाथ है तो लड़की का परिवार घबरा गया। महीनों तक उसका परिवार दहशत में रहा। उन्होंने पुलिस में शिकायत करने की हिम्मत नहीं की। बाद में वकील से सलाह कर उन्होंने पुलिस में शिकायत कर दी।

रोशन माखीजा

बता दें कि पंकज त्रिलोकानी टीओके के युवा विंग का कार्याध्यक्ष है। पहले वह नवदीप मोटर्स नाम से गाड़ियों की खरीद-फरोख्त का धंधा करता था। उस पर करोड़ों की सेल्स टैक्स चोरी का मामला अभी भी चल रहा। अब वह 15 से 20 प्रतिशत के दर से ब्याज का धंधा करता है। उसे पैनल नंबर -5 से टीओके पार्टी से भावी नगरसेवक के रूप में प्रोजेक्ट किया जा रहा था। रोशन माखीजा प्रॉपर्टी डीलर का काम करता है। उससे बड़ी बात वह टीओके का उपाध्यक्ष है।

टीओके का कोई भी ऐसा पदाधिकारी नहीं है जो बेदाग़ हो। लोग  उसका नाम इज़्ज़त से लेते हों। सब पर कोई न कोई आपराधिक मामला दर्ज है। और तो और टीओके प्रमुख ओमी कालानी पर भी पता नहीं कितने मामले दर्ज हैं। इसीलिए तो पार्टी का नाम है टीम ऑफ़ क्रिमिनल्स (टीओके)।

3.8 9 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments