अकेला 

मध्य मुंबई के भायखला स्थित आशियाना एसआरए प्रकल्प (Ashiyana SRA Project) में अब भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कद्दावर नेता किरीट सोमैया (Kirit Somaiya) की एंट्री हो गयी है। किरीट सोमैया की शिकायत पर बृहन्मुम्बई महानगर पालिका (BMC) ने जांच भी शुरू कर दी है। एबीआई (ABI) ने इस प्रकल्प की अवैधता को लेकर कई दफा खबरें प्रकाशित की हैं। 30 जनवरी 2022 को एबीआई ने “…. जब दाऊद इब्राहिम के भाई इक़बाल कासकर ने एयर इंडिया के कैप्टन अबू अंसारी को नंगा करके पीटा था” (when Dawood Ibrahim’s brother Iqbal Kaskar stripped and thrashed Air India’s Captain Abu Ansari) हेडिंग से भी खबर प्रकाशित की थी।

आशियाना पुनर्वसन प्रकल्प अबू शायमा अंसारी (Abu Ansari) डेवलप कर रहा है। अबू अंसारी एयर इंडिया (Air India) का वर्तमान में कैप्टन (Captain) है। उसकी नान इंटरप्राइजेस (Nan Enterprises) नाम से कंस्ट्रक्शन कंपनी है। यह प्रकल्प भायखला के नारियलवाड़ी (Nariyalwadi) में सिटी सर्वे क्रमांक 626, 627, 628 व 629 पर स्थित है। दस्तावेज़ बताते हैं कि पूरा प्रोजेक्ट ही अवैध है। अबू अंसारी किसी भी रूल्स एंड रेगुलेशंस का पालन नहीं कर रहा है। एक महत्वपूर्ण दस्तावेज़ यह है कि बृहन्मुम्बई महानगर पालिका (बीएमसी) का कॉलोनी विभाग का रिकॉर्ड बताता है कि भूखंड पर 112 टेनेंट्स थे। जबकि बीएमसी का ही इस्टेट विभाग बताता है कि भूखंड पर मात्र 12 टेनेंट्स थे। नियम के तहत 124 टेनेंट्स का पुनर्विकास होना चाहिए था। परन्तु फर्जीवाड़ा करके अबू अंसारी ने एसआरए (इंजीनियरिंग विभाग) से 242 टेनेंट्स के नाम प्लान पास करवा लिया। उसने सीरियल नंबर 113 से 242 तक कुल 130 फर्जी नाम शामिल कर दिए। किरीट सोमैया ने इन 130 ‘अज्ञात’ लोगों को भूत (Ghost) की संज्ञा दी है। 

अबू शायमा अंसारी

भाजपा के पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने 6 जनवरी 2022 को बीएमसी के ज्वाइंट कमिश्नर (जोन-1) रंजीत ढाकने (Ranjit Dhakne) को पत्र लिखकर मामले की जांच करने का निवेदन दिया था। रंजीत ढाकने ने असिस्टेंट कमिश्नर (इ-विभाग) मनीष वलुंजे (Manish Valunje) को जांच करके रिपोर्ट सब्मिट करने का आदेश दिया है। इस आशय का पत्र एबीआई के पास मौजूद है। 

इसी प्रकल्प पर रहने वाले जमाल खान (Jamal Khan) ने बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) में चार पिटीशन (Petition) फाइल की है। एक एफआईआर (FIR) भी दर्ज है लेकिन प्रकल्प का काम बेतहाशा शुरू है। बीएमसी और एसआरए अधिकारियों पर इसका कोई असर नहीं पड़ रहा। अबू अंसारी बताता था कि पूर्व पुलिस इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा (Pradip Sharma), बर्खाश्त पुलिस इंस्पेक्टर असलम मोमिन (Aslam Momin), शिव सेना नगरसेवक यशवंत जाधव (Yashwant Jadhav), वार्ड अधिकारी मनीष वलुंजे (Manish Valunje और सुनील मेहर (Sunil Mehar) का उसके सर पर हाथ है। इसलिए प्रकल्प पर कोई असर नहीं पड़ सकता। ऐसे में मनीष वलुंजे ही किरीट सोमैया के शिकायत की जांच कर रहा है। मनीष वलुंजे इतना करप्ट अधिकारी है कि उसने अपने बाप राधाकृष्ण वलुंजे के नाम 100 करोड़ रुपये का आरटी-पीसीआर घोटाला कर डाला। फिर भी उस पर कोई एक्शन नहीं हुआ।  

गौर करनेवाली बात है कि प्रकल्प में 500 से 800 करोड़ रुपये की लागत लगने वाली है। इतना पैसा एक एयरलाइन्स के कैप्टन के पास आया कहाँ से ? पहले दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) के भाई इक़बाल कासकर (Iqbal Kaskar) ने अपना कुछ पैसा लगाया था लेकिन उसे जब मालूम पड़ा कि प्रकल्प अवैध और विवादित है तो उसने अबू अंसारी को नंगा करके पीटा और अपना पैसा वापस ले लिया। इकबाल कासकर के अपना पैसा वापस लेने के बाद अब किसका पैसा अबू अंसारी यूज कर रहा है। 1993 मुंबई बम ब्लास्ट (1993 Bombay Bomb Blast) के आरोपी समीर हिंगोरा (Samir Hingora) के साथ भी वह घोड़पदेव में ढाई एकड़ का प्लॉट डेवलप करने की कोशिश कर रहा है।

मुंबई में अवैध इमारत बनाना कोई बड़ी बात नहीं है। गौरतलब है कि …

1 – अबू अंसारी एयर इंडिया जैसी रेपुटेड एयर लाइन्स का कप्तान है परन्तु उसकी शोहबत अंडरवर्ल्ड के लोगों के साथ है। एयर इंडिया पहले केंद्र सरकार के अधीन थी।

2 – तकरीबन 800 करोड़ रुपये बंदोबस्त उसने कहाँ से किया ?

3– प्रदीप शर्मा और असलम मोमिन जैसे अंडरवर्ल्ड के पे रोल पर रहने वाले पुलिस अधिकारी उसके प्रोजेक्ट को प्रोटेक्ट करते हैं।  

4– इक़बाल कासकर से उसने इन्वेस्टमेंट करवाया था। असलम मोमिन दाऊद इब्राहिम से ही सम्बन्ध रखने के आरोप में बर्खास्त है। 

5– 1993 मुंबई बम धमाके के आरोपी समीर हिंगोरा की पार्टनरशिप में अबू अंसारी घोड़पदेव में प्लॉट डेवलप करना चाह रहा है।

6– ड्रग्स माफिया शाहनवाज मर्चेंट अक्सर आशियाना प्रकल्प पर देखा जाता है। शाहनवाज़ मर्चेंट एयर इंडिया एयर लाइन्स के ही मार्फ़त ड्रग्स की तस्करी करता था और उसी एयर इंडिया में अबू अंसारी तब  पायलट था। शाहनवाज़ मर्चेंट ड्रग्स तस्करी के आरोप में बैंकॉक में गिरफ्तार हो चुका है। 

राज्य सरकार, मुंबई पुलिस, बीएमसी और एयर इंडिया प्रशासन ध्यान दें कि अबू अंसारी भविष्य में देश के लिए खतरा बन सकता है। किरीट सोमैया को भी इस प्वाइंट ऑफ़ व्यू से सोचना चाहिए।

5 2 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments